सहरसा:16 करोड़ से जिले के छह मदरसों की बदलेगी सूरत - कोशी लाइव

BREAKING

Tuesday, May 21, 2019

सहरसा:16 करोड़ से जिले के छह मदरसों की बदलेगी सूरत

कोशी लाइव:अक्की

सहरसा। अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ने मदरसों की सूरत बदलने का निर्णय लिया है। इस योजना के तहत अब मरदसों में तीन मंजिला भवन के अलावा समृद्ध पुस्तकालय, कम्प्यूटर प्रयोगशाला, सभाकक्ष, पुस्तकालय, सौर ऊर्जा संयंत्र, शुद्ध पेयजल संयंत्र आदि लगाए जाएंगे ताकि वहां शिक्षा ग्रहण करने आए छात्र-छात्राओं को हर तरह की सुविधा मिल सके। जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ने इसके लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों से विचारोपरांत तकनीकी विभाग के सहयोग से डीपीआर बनाकर सरकार को भेज दिया है। उम्मीद है कि जल्द ही इन मदरसों की सूरत बदलेगी।
------------

प्रथम चरण में छह मदरसा
के लिए भेजा गया प्रस्ताव
-----------

बिहार राज्य मदरसा सु²ढ़ीकरण योजना के तहत प्रथम चरण में जिले के छह मदरसों को चिह्नित किया है। मदरसा दारूल उलूम हाकवीन बनाम गंगजला के लिए 23 लाख 86 हजार, मदरसा इस्लामियां तरियामा के लिए एक करोड़ 16 लाख 25 हजार, मदरसा फैजुल उलूम सहरसा बस्ती के तीन करोड़ 20 लाख, मदरसा फजले रहमानी भेलाही के लिए चार करोड़ 61 लाख 45 हजार, मदरसा दारूल उलूम फैजाने वारिस हरेवा के लिए एक करोड़ 23 लाख 64 तथा मदरसा कादरिया अनवारूल उलूम सरवेला के लिए पांच करोड़ 90 लाख दस हजार का प्राक्कलन बनाकर अल्पसंख्यक कल्याण विभाग को भेजा गया है।
--------------------
अन्य मदरसों के आधारभूत संरचना का होगा विकास :

जिले में अधिकांश मदरसों को भवन एवं अन्य आधारभूत संरचना की कमी है। बिहार राज्य मदरसा सु²ढ़ीकरण योजना के तहत प्रथम चरण में छह मदरसों को सु²ढ़ किए जाने के बाद शेष मदरसों का डीपीआर बनाया जाएगा। आनेवाले दिनों में जिले के सभी मदरसों की सूरत बदल जाएगी। इससे अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों के पठन-पाठन पर भी प्रभाव पड़ेगा
---------------------
बिहार राज्य मदरसा सु²ढ़ीकरण योजना के तहत जिन मदरसों को आधारभूत संरचना की कमी है, उसकी सूरत बदलेगी। इससे बच्चों का आकर्षण बढ़ेगा और अल्पसंख्यक समुदाय के पठन-पाठन पर भी प्रभाव पड़ेगा।
रविशंकर, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी, सहरसा।

Total Pageviews