सुपौल:मरौना में सुरक्षा बांध को नीतीश सरकार ने नहीं दी एनओसी - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Wednesday, April 17, 2019

सुपौल:मरौना में सुरक्षा बांध को नीतीश सरकार ने नहीं दी एनओसी

कोशी लाइव::
सुपौल।संतोष कुमार 

  सुपौल संसदीय क्षेत्र से महागठबंधन की उम्‍मीदवार रंजीत रंजन ने आज मरौना में सघन जनसंपर्क चलाया। इस दौरान मरौना में कोसी नदी पर सुरक्षा बांध नहीं बनने का आरोप नीतीश सरकार पर लगाया। उन्‍होंने कहा कि मरौना से हमारा रिश्‍ता बहुत पुराना रहा है। हम यहां तब भी आते रहे हैं, जब मरौना आने में एक दिन और जाने में एक दिन लगता था। मरौना – निर्मली के बीच संपर्क के लिए कच्‍ची रोड था। तब 2004 में हमने इस सड़क का निर्माण वर्ल्‍ड बैंक के मदद से करावाया। मरौना में कई पुलों और सड़क का निर्माण हुआ। यहां सुरक्षा बांध बनवाना मेरी प्राथमिकता है, लेकिन सब कुछ होने के बाद भी नीतीश सरकार ने एनओसी नहीं दी, जिसका नतीजा यह हुआ कि सुरक्षा बांध नहीं बना और परेशानी लोगों को हो रही है।

रंजीत रंजन ने मोदी सरकार को अमीरों का हितैषी बताया और कहा कि उनकी सरकार में र्स्‍टाट अप, स्‍टेंड अपद्व स्‍मार्ट सिटी, आदर्श ग्राम, उज्‍ज्‍वला योजना, किसान बीमा जैसे तमाम योजनाओं में प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाया। उन्‍होंने कहा कि यह चुनाव कुछ लोगों के लिए सीजनल है। ऐसे लोगों से देश को बचाने की जरूरत है। इसलिए आप अपना मजबूत प्रतिनिधि चुनकर संसद में भेजें, ताकि सुपौल की आवाज सदन में गूंजे और आपका उत्तरोत्‍तर विकास सुनिश्चित हो।   

उन्‍होंने पीएम मोदी के पकौड़े वाले बयान पर भी मोदी सरकार को निशाने पर लिया और कहा कि कोई पकौड़ा बेचने वाला यह सपना नहीं देखता है कि उनके बच्‍चे 30 साल बाद फिर से पकौड़े ही बेचे। उन्‍होंने कहा कि मोदी जी खुद को गरीब का बेटा बताते हैं। तो मोदी जी को याद रखना चाहिए कि उन्‍होंने यूपीए सरकार के समय में ही पीएम बनने का सपना देखा था। मगर वे आज गरीबों के सपनों को ही मार रहे हैं। इसलिए 23 अप्रैल को कांग्रेस के चुनाव चिन्‍ह पर वोट कर हमें ताकत दें, क्‍योंकि पीएम – सीएम तो हेलीकॉप्‍टर से आयेंगे। चले जायेंगे, लेकिन आपकी आवाज को हम ही संसद में पहुंचाने का काम करेंगे।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages