मधेपुरा:मेडिकल कॉलेज में अगस्त से शुरू होगा नामांकन - कोशी लाइव

BREAKING

रितिका CCTV

रितिका CCTV
सेल एंड सर्विस

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, April 28, 2019

मधेपुरा:मेडिकल कॉलेज में अगस्त से शुरू होगा नामांकन

कोशी लाइव:अक्की
- एमसीआइ का एक और होगा निरीक्षण

-44 चिकित्सकों की हो चुकी है प्रतिनियुक्ति
- 850 करोड़ की लागत से तैयार हुआ है मेडिकल कॉलेज का भवन
-मुख्यमंत्री खुद ले रहे हैं रूचि
----------------------
संवाद सूत्र,सिंहेश्वर(मधेपुरा) : कोसी का पहला मेडिकल कॉलेज अगस्त में प्रारंभ हो सकती है। सब कुछ ठीक रहा और एमसीआइ ने अनुमति प्रदान कर दी तो आनेवाले सत्र से मेडिकल छात्रों का नामांकन प्रारंभ हो जाएगा। वहीं लोगों को बेहतर चिकित्सकीय सुविधा भी मिलना प्रारम्भ हो जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार की तरफ से सारे प्रयास किए जा रहे हैं। अबतक की सबसे बड़ी समस्या भवन की कमी को दूर किया जा चुका है।  यद्यपि कई तकनीकी बाधा भी है पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का दावा है कि आनेवाले सत्र में हर हालत में एमबीबीएस की पढ़ाई प्रारम्भ करवा दी जाएगी। मेडिकल कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर एवं प्रोफेसर की नियुक्ति प्रक्रिया प्रारम्भ की जा चुकी है। जबकि कई वरीय चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति भी की जा चुकी है। इससे पहले निरीक्षण में आई एमसीआइ की टीम ने भवन एवं चिकित्सकों की कमी को लेकर स्वीकृति देने से इनकार कर दिया था। इधर एमसीआइ द्वारा बताए गए कई खामियों को विभाग द्वारा दूर किया जा चुका है। शेष को तय समय से पहले पूरा कर लिए जाने की उम्मीद है। भवनों का निर्माण जहां अंतिम रूप से हो चुका है। वहीं कुल 44 चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा चुकी है। मई में एकबार फिर एमसीआइ को निरीक्षण के लिए फीस जमा की जा सकती है।
------------------------

45 करोड़ से उपकरण व फर्नीचर की होगी खरीदारी
भवन का कार्य लगभग पूर्ण होने को है। फर्नीचर एवं उपकरणों की खरीददारी की प्रक्रिया भी प्रारम्भ की जा चुकी है। लगभग 45 करोड़ रुपये की लागत से मेडिकल कॉलेज के उपकरण, फर्नीचर आदि की खरीददारी होगी। विभाग ने इसकी जिम्मेदारी बीएमएसआइसीएल को सौंपा है। अप्रैल में उपकरणों एवं फर्नीचर को लगाया जाना प्रारम्भ कर दिया जाएगा।
------------------------
अगस्त में प्रारम्भ होगा नामांकन
अगस्त में मेडिकल कॉलेज के प्रथम सत्र के छात्रों का नामांकन प्रारम्भ हो जाने की उम्मीद है। नामांकन की प्रक्रिया सितंबर के अंत तक चलेगी। नामांकन की प्रक्रिया पूरी होने तक स्वास्थ्य विभाग को उम्मीद है कि एमसीआइ की स्वीकृति आदि की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।
------------------------ 
ओपीडी जल्द होगी प्रारम्भ
मेडिकल कॉलेज में ओपीडी प्रारम्भ करने की तैयारी की जा चुकी है। ओपीडी सेवा जल्द ही शुरू की जा सकती है। इसके लिए मेडिकल कॉलेज को चिकित्सक भी मिल चुके हैं। परंतु अभी अन्य कर्मियों की तैनाती नहीं किए जाने की वजह से ओपीडी प्रारम्भ नहीं की जा सकी है। विभाग की माने तो एमसीआइ की निरीक्षण से पहले ओपीडी भी प्रारम्भ कर दिया जाएगा।
------------------------
850 करोड़ से हो रहा है भवन निर्माण
राज्य में भवन निर्माण की यह अब तक की सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है। मेडिकल कॉलेज के भवन निर्माण कार्य पर लगभग 850 करोड़ रुपया खर्च हो रहा है। भवन निर्माण का जिम्मा राज्य सरकार ने बीएमएसआइसीएल को दिया गया है। भवन निर्माण का कार्य एल एंड टी नामक कंपनी को दिया गया है। भवन निर्माण को लेकर अबतक कई बार समय सीमा बढ़ाई जा चुकी है। 2016 तक ही निर्माणकर्ता कंपनी को भवन बना कर सौंप देना था। बाद में 30 जुलाई, 2017 की तिथि कार्य संपन्न करने की तिथि रखी गई थी।
------------------------मेडिकल कॉलेज की विशेषताएं
-: 500 बेड का हॉस्पिटल
-: 100 छात्रों का प्रतिवर्ष नामांकन
-: पूरा कैंपस वाइफाई
- 42 बेड का आइसीयू
-: 06 डायलिसीस यूनिट
-: एसी ऑडिटोरियम
-: मोड्यूलर ऑपरेशन थिएटर
-: ऊंचे भवनों के लिए लिफ्ट

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews