बिहार:गर्लफ्रेंड ने की किसी और से दोस्ती तो 10वीं के छात्र ने फंदे से लटक दे दी जान - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Thursday, 4 April 2019

बिहार:गर्लफ्रेंड ने की किसी और से दोस्ती तो 10वीं के छात्र ने फंदे से लटक दे दी जान

कोशी लाइव:अक्की

गर्लफ्रेंड ने छोड़ा और किसी और से की दोस्ती तो 10वीं के छात्र  रौशन कुमार (18 वर्ष) ने फंदा लगा खुदकुशी कर ली। घटना मोजहिदपुर थाने के सिकंदरपुर मोहल्ला स्थित गुड़हट्टा रोड के पास हुई। पारिवार वालों के मुताबिक दो दिन से वह घर में खाना नहीं खा रहा था और मोबाइल तोड़ दिया था। वह काफी तनाव में रह रहा था। सोमवार शाम मां ने खाना खाने को दिया लेकिन गुस्से में उसने थाली फेंक दिया। आसपास रहने वाले दोस्तों ने भी उसे समझाया। समोसा लाकर खिलाया। रात दस बजे तक दोस्तों के साथ लैपटॉप पर गेम और सिनेमा देख रहा था। मार्च में रौशन ने दसवीं की परीक्षा दी थी। 
जवाब नहीं मिलने पर हुआ संदेह: पिता
पिता ने कहा कि सोमवार देर रात रात 11 बजे खाना खाकर घर के सभी लोग कमरे में सोने चले गए। रौशन भी बाहर के कमरे में चला गया था। मंगलवार की सुबह करीब पांच बजे टहलने के उठे तो रौशन के कमरे में लाइट जल रही थी। टहलने के लिए उसे जगाया तो कोई आवाज नहीं मिलने पर संदेह होने लगा। खिड़की से बेटे का शव देखकर परिवार के लोग रोने पीटने लगे। आसपास के लोग जुट गए। मंगलवार सुबह मोजाहिदपुर थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इंस्पेक्टर राम इकबाल प्रसाद यादव ने कहा कि घटना की यूडी रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। मोबाइल कॉल डिटेल से घटना की सच्चाई का पता लगाया जाएगा।
 
स्कूली दोस्त से चल रहा था प्रेम प्रसंग
दोस्तों की माने तो रौशन का स्कूल में साथ पढ़ने वाली एक लड़की से गहरी दोस्ती थी। दोनों एक-दूसरे से प्रेम करते थे। दोनों अक्सर मिलते जुलते रहते थे लेकिन सप्ताह भर से दोनों में किसी बात को लेकर मतभेद हो गया था। लड़की बात नहीं कर रही थी। दोस्तों के अनुसार लड़की रोशन को छोड़कर किसी और के साथ दोस्ती बढ़ा रही थी। इसी बात से रौशन परेशान था। गुस्से में आकर रौशन ने मोबाइल तोड़ दिया था। मां ने पूछा तो कहा गिर जाने से मोबाइल टूट गया है। सुबह जब लड़की को रौशन के खुदकुशी की सूचना दी गई तो लड़की को लेकर परिवार वाले घर में ताला लगाकर बाहर चले गए।
दोस्तों ने दिया कंधा
मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के बाद रौशन को दोस्तों ने कंघा दिया। बरारी घाट तक कंधा देकर ले गए। दोस्तों ने कहा कि रौशन इतना कमजोर था पता नहीं था। जबकि पढ़ने में वह बेहद तेज था। नादानी में उसकी जिंदगी को समाप्त कर ली।
 
बुढ़ापे में कष्ट देकर चला गया
रौशन के खुदकुशी के बाद मां-पिता रो-रोकर बदहवास हो रहे थे। जमीन पर मां पड़ी तो और पलंग पर पिता रो रहे थे। कभी सिर पिटते थे तो कभी जोर से चिल्लाने लगते थे। पिता शाह मार्केट में कबाड़ी का कारोबार करते हैं। कहा बेटे को कोई कमी नहीं दी थी। तीन बेटियों की शादी हो चुकी है। बड़ा बेटा दिल्ली में रहता है और छोटा बेटा साथ रहता था। गुस्सा करता था लेकिन पता नहीं था कि बुढ़ापे में कष्ट देकर चला जाएगा।  

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages