MADHEPURA:महाशिवरात्रि आज, डीएम सिंहेश्वर में करेंगे मेला का उद्घाटन - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

Breaking

तिवारी एजेंसी(सहरसा)

तिवारी एजेंसी(सहरसा)
छड़,सीमेंट,गिट्टी,बालू एवं हार्डवेयर की सामान के लिए संपर्क करें।

THE JABED HABIB

THE JABED HABIB
BEST HAIR AND MAKEUP SLOON

Translate

Monday, 4 March 2019

MADHEPURA:महाशिवरात्रि आज, डीएम सिंहेश्वर में करेंगे मेला का उद्घाटन

कोशी लाइव:अक्की

सूत्र, सिंहेश्वर (मधेपुरा) : बाबा भोलेनाथ के विवाह उत्सव के रूप में हर वर्ष मनाए जाने वाले महाशिवरात्रि को लेकर बाबा नगरी काफी उत्साह का माहौल है। मौके पर एक माह तक चलने वाले मेला का उद्घाटन सोमवार को डीएम नवदीप शुक्ला करेंगे। जबकि मौके पर जिला के आलाधिकारी मौजूद रहेंगे। मेला में सुरक्षा व्यवस्था के लिए 31 दंडाधिकारी के साथ काफी तादाद में पुलिस बल की तैनाती की गई है। शाम को मंदिर से बाबा की बारात निकलेगी। महाशिवरात्रि के पावन मौके पर लाखों श्रद्धालु जलाभिषेक को उमड़ेंगे। पूरा दिन श्रद्धालुओं से खचाखच भरा रहेगा। मौके पर सीमावर्ती राष्ट्र नेपाल तक के श्रद्धालु यहां आते हैं।
रात में होगी बाबा भोलेनाथ व माता गौरी की पूजा : शाम चार बजे मंदिर परिसर से बाबा की बारात भव्यता के साथ निकलेगी। बाबा की बारात में भूत पिशाच का रूप धारण किए लोग शामिल रहते हैं। बाबा की बारात में कई विद्यालयों एवं संस्थाओं के द्वारा झांकी भी निकाली जाएगी। बारात सिंहेश्वर की सड़कों से गुजर कर बाबा के ससुराल यानी माता पार्वती के घर गौरीपुर तक जाएगी। जहां बाबा के विवाह की रश्म पूरी की जाती है। बाबा की बारात में शामिल होने को श्रद्धालु काफी दूर दराज के इलाके से पहुंचते हैं। बारात निकलने के समय भीड़ इतनी अधिक रहती है कि मुख्य मार्ग की सड़क के ट्रैफिक को रोकना पड़ जाता है। बारात में न्यास समिति एवं प्रशासन के वरीय पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।
मध्य रात्रि ही खुलेगा बाबा मंदिर : श्रद्धालुओं की अत्यधिक भीड़ को देखते हुए बाबा मंदिर का पट मध्य रात्रि को खुलेगी। बाबा के जलाभिषेक को श्रद्धालु रविवार की शाम से मंदिर पहुंचने लगते हैं। शिवरात्रि के मौके पर डेढ़ से दो लाख श्रद्धालुओं के जलाभिषेक करने का अनुमान लगाया जा रहा है। रात्रि में श्रद्धालुओं को ठहरने के लिए मंदिर ट्रस्ट की सभी धर्मशाला को खाली रखा गया है। श्रद्धालु इन धर्मशालाओं में नि:शुल्क ठहर पाएंगे।
डीडीसी रहेंगे मेले के सम्पूर्ण प्रभार में : संपूर्ण मेले के वरीय प्रभार में डीडीसी विनोद कुमार सिंह रहेंगे। जबकि विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को सौंपा गया है। डीएम एवं एसपी ने जारी संयुक्तदेश के द्वारा मेला के लिए अलग अलग महत्वपूर्ण जगहों के लिए 31 मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति भी की गई है। बीडीओ,सीओ एवं सीडीपीओ को वरीय प्रभारी मजिस्ट्रेट बनाया गया है।
12 जगहों पर लगाई गई है बेरियर : यातायात नियंत्रण के लिए 12 जगहों पर ब्लॉक गेट लगाया गया है। सभी ब्लॉक गेट पर पुलिस पदाधिकारी, दंडाधिकारी एवं पुलिस कर्मियों की तैनाती रहेगी। मधेपुरा से आने वाले सभी ऑटो को सुखासन मोड़ के पास ही रोक दिया जाएगा। जबकि सुपौल-पिपरा रूट से आने-जाने वाले ऑटो को दुर्गा चौक के पास ही रोका जाएगा। मधेपुरा की ओर से आने-जाने वाले वाहनों को नारियल विकास बोर्ड के पास तथा गम्हरिया, सुपौल तथा पिपरा आदि से सिंहेश्वर तक के लिए दुर्गा चौक पर अस्थायी टेंपो स्टैंड बनाया गया है। सिंहेश्वर बाजार में किसी भी प्रकार के वाहन खड़ा करने पर रोक है। इस दौरान गाड़ी बाजार में खड़ी करने पर कानूनी कार्यवाई किया जायेगा। वहीं दूसरी तरफ मंदिर परिसर व मेला परिसर में किसी भी प्रकार के वाहन नहीं जाने दिया जाएगा।
350 पुलिस बल के जिम्मे मेले की सुरक्षा व्यवस्था : मेला में विधि व्यवस्था हेतु काफी तादाद में पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है। महाशिवरात्रि एवं जलधरी के मौके पर अलग से पुलिस कर्मी एवं पदाधिकारी की तैनाती की गई है। दरअसल शिवरात्रि एवं उसके अगले दिन जलढरी को सर्वाधिक संख्या में श्रद्धालु आते हैं। इसे देखते हुए पुलिस प्रशासन ने छह इंस्पेक्टर, 90 दरोगा, एएसआई एवं तकरीबन 200 पुलिसकर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। विधि व्यवस्था एवं यातायात नियंत्रण के लिए 44 पॉइंट बनाए गए है जहां पर तीन शिफ्ट में पुलिसकर्मियों एवं पदाधिकारियों की तैनाती रहेगी। वहीं सिंहेश्वर थाना में पदस्थापित दारोगा श्रीकांत शर्मा को मेला थाना का प्रभारी बनाया गया है।
संवाद सूत्र, अरार (मधेपुरा): ग्वालपाडा प्रखंड क्षेत्र के टेमा भेला पंचायत के कांटाही में सुदामा देवी के द्वारा सर्वेश्वर महादेव के शिवलिंग की स्थापना को लेकर कलश यात्र निकाली गई। कलश यात्र का नेतृत्व विद्यालय प्रधानाध्यापक सह डीडीओ रूपा कुमारी कर रहे थे। कलश यात्र में शामिल श्रद्धालुओं ने पोखर में जल भरा। यात्र कांटाही शिव मंदिर से बाबा भोले के जयकारे लगाते हुए पूरे क्षेत्र का भ्रमण किया। इस दौरान बाबा भोले के जयकारे से पूरा वातावरण गुंजायमान बना रहा। मौके पर वेदाचार्य अखिलेश पाठक, हेमकांत ठाकुर, महराज पाठक, बाबन खाँ, मधुकान्त पाठक, संतोष पाठक, अनिल झा एवं यजमान सुदामा देवी, सतीश कुमार, रामशरण कुमार, वीरेंद्र, लल्लू, पवन कुमार, ज्योतिष, मिथिलेश कुमार, अमित कुमार, बंटी कुमार, नितीश कुमार, मो. राजा के सहित अन्य मौजूद थे।
चौसा : चौसा प्रखंड के लौआलगान में दो दिवसीय लोक जागरण गायत्री महायज्ञ को लेकर कलश शोभा यात्र निकाली गई। कलश यात्र यज्ञ स्थल से निकल कर ¨बद टोली, लौआलगान मुख्य बजार, नवयुवक पुस्तकालय, काली मंदिर और अन्य जगहों का भ्रमण कर पुन: यज्ञ स्थल पर पहुंची। इस दौरान माता के जयकारे से पूरा वातावरण गुंजायमान हो रहा था। इस दौरान गायत्री परिवार द्वारा वैदिक मंत्रोच्चारण कर कलश पूजन किया गया। मौके पर पूर्व मुखिया शशि भूषण उर्फ लड्डू सिंह, वीरेंद्र कुमार वीरू, बिजेंद्र बीरा, अमरेंद्र सिंह, मिथलेश यादव, भूमि सिंह मंटू सिंह, महेश्वरी सिंह, सुरेश शर्मा, घुन्नी शर्मा, शम्भू सिंह, उमेश पंडित, रंजीत शर्मा आदि मौजूद थे।
महाशिवरात्रि आज, डीएम सिंहेश्वर में करेंगे मेला का उद्घाटन

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Connect With us

Pages