बिहार:बांका : पुलिसिया पूछताछ के बावजूद मु.रेहान और मु.नौशाद आलम का कोई आतंकी कनेक्शन नहीं निकला - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, March 4, 2019

बिहार:बांका : पुलिसिया पूछताछ के बावजूद मु.रेहान और मु.नौशाद आलम का कोई आतंकी कनेक्शन नहीं निकला

कोशी लाइव:अक्की


 बांका : पुलिसिया पूछताछ के बावजूद मु.रेहान और मु.नौशाद आलम का कोई आतंकी कनेक्शन नहीं निकला है। दोनों जिले के शंभूगंज थाना क्षेत्र के चुटिया-बेलारी गांव के रहने वाले हैं। दो दिनों की पूछताछ के बाद आखिरकार रविवार को पुलिस ने रेहान और दानिश उर्फ नौशाद आलम के अलावा उसके परिवार को पीआर बांड पर छोड़ दिया। अब पुलिस सुरक्षा एजेंसी को उनके आतंकी होने का फर्जी मैसेज भेजने वालों को खोज रही है। रेहान को हिरासत में लिए जाने के बाद पुलिस नौशाद को खोज रही थी।
लखीसराय के सूर्यगढ़ा पुलिस के समक्ष हुआ था उपस्थित : पुलिस ने संदेह के आधार पर मु.नौशाद की पत्नी और बेटी को पूछताछ के लिए थाना लाया था। इसके बाद नौशाद ने खुद शंभूगंज पुलिस ने बात की। पुलिस की कार्रवाई की जानकारी मिलने पर शनिवार की देर रात वह पटना से बांका स्थित घर लौट रहा था। इसी क्रम में उसने लखीसराय जिले के सूर्यगढ़ा थाना में पुलिस के समक्ष उपस्थित हो गया था। सूर्यगढ़ा से लाने के बाद एसपी स्वपना मेश्रम व एएसपी (अभियान) ओमप्रकाश सिंह ने नौशाद से न्यू पुलिस लाइन में पूछताछ की।
ई मेल से बढ़ी पुलिस की परेशानी : दो दिन पूर्व ही सुरक्षा एजेंसी के दिल्ली स्थित मुख्यालय को इस संबंध में एक ई मेल मिला था। इसकी जानकारी मिलते ही बांका पुलिस के होश उड़ गए थे। शुक्रवार रात से ही इसकी जांच शुरू हो गई थी। पुलिस ने शनिवार सुबह रेहान को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। उसके घर से भी किसी चीज की बरामदगी नहीं हुई। इसके बाद पुलिस को गांव के नौशाद पर शंका हुई। वह गांव से एक दिन पहले पटना निकल गया था। शनिवार दोपहर बाद शंभूगंज से पटना तक की पुलिस उसे खोजने लगी। सूर्यगढ़ा थाना में सरेंडर के बाद सुबह उसे पूछताछ के लिए बांका लाया गया। पुलिस लाइन में एसपी के अलावा एएसपी (अभियान) ओमप्रकाश सिंह आदि ने कड़ी पूछताछ की। लेकिन उसकी कोई संलिप्तता सामने नहीं आई।
नौशाद और रेहान का नहीं निकला आंतकी कनेक्शन

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews