MADHEPURA:कदाचार के आरोप में इंटर की छात्रा निष्कासित - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, February 7, 2019

MADHEPURA:कदाचार के आरोप में इंटर की छात्रा निष्कासित

कोशी लाइव:अक्की

परीक्षा के दौरान केंद्रों का अधिकारी लेते रहे जायजा
- 15,755 परीक्षार्थियों को देनी थी प्रथम पाली की परीक्षा
- 545 परीक्षार्थी रहे प्रथम पाली में अनुपस्थित
---------------------
संवाद सूत्र, मधेपुरा : इंटरमीडिएट परीक्षा के दूसरे दिन भी परीक्षा केंद्रों पर प्रशासनिक सख्ती देखी गई। अधिकारियों की टीम दोनों पालियों में परीक्षा केंद्र का निरीक्षण करती रही। परीक्षा के दूसरे दिन बुधवार को प्रथम पाली में हिन्दी की परीक्षा हुई। वहीं दूसरी पाली में कम्प्यूटर साइंस व वेब मीडिया की परीक्षा हुई। परीक्षा केंद्र के बाहर अभिभावकों की भीड़ पुलिस बल के तैनाती के कारण हटी रही। वहीं उदाकिशनगंज अनुमंडल के बालक मध्य विद्यालय से कदाचार के आरोप में एक छात्रा को निष्कासित किया गया है।
------
कमांडो दस्ता की टीम कर रहे
थे गश्ती :
जिले में शांतिपूर्ण वातावरण में परीक्षा संपन्न कराने को लेकर कमांडो दस्ता की टीम लगातार सभी केंद्रों पर गश्ती करते रहे। परीक्षा केंद्र के भीतर 200 मीटर की दूरी के अंदर जमा भीड़ को पुलिस खदेड़ती रही। भीड़ हटाने के लिए पुलिस बीच-बीच में डंडे भी बरसाती रही।
------------------------
प्रथम पाली में उपस्थित हुए 15,210 परीक्षार्थी
जिले के सभी 42 केन्द्रों पर प्रथम पाली में 15,755 परीक्षार्थियों को भाग लेना था। इसमें 545 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। वहीं दूसरी पाली की परीक्षा में 70 परीक्षार्थियों में सभी परीक्षार्थी मौजूद थे।
------------------------
परीक्षार्थियों के भीड़ के कारण सड़क पर लगा जाम :
परीक्षार्थियों के भीड़ के कारण शहर के सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रही। सबसे खराब स्थिति भिरखी रेलवे ढाला, कर्पूरी चौक, बस स्टेण्ड की रही जहां सड़कों पर गाड़ियों की लंबी कतार लगी रही। जाम के कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
-----------
उदाकिशुनगंज में 182 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित :
उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र के सभी परीक्षा केंद्र पर दूसरे दिन गुरूवार को शांतिपूर्ण परीक्षा संपन्न हुई। परीक्षा को लेकर दूसरे दिन भी प्रशासनिक हनक देखने को मिला। एसडीओ एसजेड हसन सभी केंद्रों का जायजा लेते रहे। एसडीओ ने अनुमंडल मुख्यालय के मध्य विद्यालय बालक परीक्षा केंद्र पर एक छात्रा को नकल के आरोप में निष्कासित कर दिया। वहीं नकल के आरोपी छात्रा को हिरासत में लिया गया। बाद में आर्थिक दंड वसूली के बाद छात्रा को छोड़ दिया गया। वहीं विभिन्न केंद्रों पर निषेधाज्ञा के दायरे में तीन अभिभावक को गिरफ्तार किया गया। आर्थिक दंड वसूली बाद अभिभावकों को छोड़ दिया गया। दूसरे दिन दोनों पालियों में 182 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। सभी केंद्रों पर 5,775 परीक्षार्थियों को परीक्षा में शामिल होना था। यद्यपि 5,593 परीक्षार्थी ही शामिल हो पाया। एसडीओ एसजेड हसन ने बताया कि शांतिपूर्ण और कदाचार मुक्त परीक्षा संपन्न कराने को लेकर प्रशासन कृतसंकल्पित है। परीक्षा में किसी भी प्रकार की गडबड़ी सहन नहीं किया जाएगा।

Total Pageviews