BREAKING NEWS: सहरसा: डॉक्टर से कराई उठक-बैठक, पूर्व बीडीओ गिरफ्तार - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Sunday, 6 January 2019

BREAKING NEWS: सहरसा: डॉक्टर से कराई उठक-बैठक, पूर्व बीडीओ गिरफ्तार

कोशी लाइव:AKKY

सहरसा : एम्स निर्माण के आंदोलनकारियों ने शनिवार को चिकित्सक से उठक-बैठक कराई। मामले के तूल पकड़ने के बाद आंदोलन के नेतृत्वकर्ता पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। चिकित्सक वहां आंदोलनकारियों के स्वास्थ्य की जांच करने गए थे। इसे लेकर एक वीडियो भी वायरल हुआ था।
VIRAL VIDEO

सदर अस्पताल के डॉ. अखिलेश्वर प्रसाद एंबुलेंस कर्मी के साथ पूर्व बीडीओ एवं उनके सहयोगियों के स्वास्थ्य की जांच के लिए अनशन स्थल पर गए थे। इस दौरान चिकित्सक के साथ दु‌र्व्यवहार किया गया और समर्थकों ने कान पकड़कर उनसे उठक-बैठक कराई। इधर, वीडियो वायरल होने के बाद सिविल सर्जन डॉ. शैलेंद्र कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें डॉ. एसपी विश्वास, डॉ. किशोर कुमार, डॉ. एसके आजाद, डॉ. जयंत आशीष, डॉ. भुवन कुमार ¨सह, आइएमए सचिव डॉ. शिलेंद्र कुमार, डॉ. ओमप्रकाश आदि मौजूद थे। इसके बाद पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण के खिलाफ सदर थाना में आवेदन भी दिया गया। वहीं भासा (बिहार चिकित्सा संघ) के डॉ. किशोर कुमार ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अगर कार्रवाई नहीं की जाती है तो ओपीडी सेवा व इमरजेंसी सेवा का बारी-बारी से बहिष्कार किया जाएगा। आइएमए सचिव ने भी इसका समर्थन किया। इधर, मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एक टीम गठित कर दी गई। बीडीओ गौतम कृष्ण सातवें दिन अनशन समाप्त करने की घोषणा के बाद जैसे ही स्थल से बाहर निकले, पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की। इसपर समर्थकों द्वारा विरोध शुरू कर दिया गया। बाद में पहुंचे सदर थानाध्यक्ष ने विरोध के बीच पूर्व बीडीओ को गिरफ्तार कर लिया। वहीं दूसरी ओर अनशन पर बैठे पीपुल्स पावर के गौतम कृष्ण व उनके समर्थकों ने कहा कि स्वास्थ्य परीक्षण करने आए चिकित्सक द्वारा कहा गया कि यह अनशन बेवजह और फालतू है। इस अनशन ने लोगों को पागल बना दिया है। सहरसा में एम्स का निर्माण कभी नहीं होगा। फर्जी लोग फर्जी अनशन कर शहर का माहौल खराब कर रहे हैं। समर्थकों ने आरोप लगाया कि चिकित्सक जूता पहने हुए ही सो रहे लोगों के पास पहुंचकर जांच करने लगे। गौतम कृष्ण ने बताया कि चिकित्सक ने राजनीतिक साजिश की भी बात कही।

सहरसा: डॉक्टर से कान पकड़कर कराई उठक-बैठक, आरोप लगाया जूता पहनकर इलाज करने का


सहरसा। एम्स निर्माण की मांग को लेकर अनशन पर बैठे लोगों ने स्थानीय डॉक्टर से उठक-बैठक कराई। जब इसका वीडियो वायरल हुआ तो मामले ने तूल पकड़ा। रविवार को डीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुए आंदोलन को नेतृत्व करनेवाले पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण को गिरफ्तार कर लिया गया। डॉक्टर वहां आंदोलनकारियों के स्वास्थ्य की जांच करने गए थे। उन पर आंदोलनकारियों ने जूता पहनकर ही जांच करने का आरोप लगाया। 
सदर अस्पताल के डॉ. अखिलेश्वर प्रसाद एंबुलेंस कर्मी के साथ पूर्व बीडीओ एवं उनके सहयोगियों के स्वास्थ्य की जांच के लिए अनशन स्थल पर गए थे। इस दौरान उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया और समर्थकों ने कान पकड़कर उनसे उठक-बैठक कराई। इधर, वीडियो वायरल होने के बाद सिविल सर्जन डॉ. शैलेंद्र कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें डॉ. एसपी विश्वास, डॉ. किशोर कुमार, डॉ. एसके आजाद, डॉ. जयंत आशीष, डॉ. भुवन कुमार ङ्क्षसह, आइएमए सचिव डॉ. शिलेंद्र कुमार, डॉ. ओमप्रकाश आदि मौजूद थे। 
इसके बाद पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण के खिलाफ सदर थाना में आवेदन भी दिया गया। वहीं भासा (बिहार चिकित्सा संघ) के डॉ. किशोर कुमार ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अगर कार्रवाई नहीं की जाती है तो ओपीडी सेवा व इमरजेंसी सेवा का बारी-बारी से बहिष्कार किया जाएगा। आइएमए सचिव ने भी इसका समर्थन किया। 
दूसरी ओर मामले के तूल पकड़ते ही एसपी के निर्देश पर एक टीम गठित कर दी गई। पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण सातवें दिन अनशन समाप्त करने की घोषणा के बाद जैसे ही स्थल से बाहर निकले, पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की। इस पर समर्थकों ने विरोध किया। बाद में पहुंचे सदर थानाध्यक्ष ने विरोध के बीच पूर्व बीडीओ को गिरफ्तार कर लिया। 
वहीं अनशन पर बैठे पीपुल्स पावर के गौतम कृष्ण व उनके समर्थकों ने कहा कि स्वास्थ्य परीक्षण करने आए चिकित्सक द्वारा कहा गया कि यह अनशन बेवजह और फालतू है। इस अनशन ने लोगों को पागल बना दिया है। सहरसा में एम्स का निर्माण कभी नहीं होगा। फर्जी लोग फर्जी अनशन कर शहर का माहौल खराब कर रहे हैं। समर्थकों ने आरोप लगाया कि चिकित्सक जूता पहने हुए ही सो रहे लोगों के पास पहुंचकर जांच करने लगे। गौतम कृष्ण ने बताया कि चिकित्सक ने राजनीतिक साजिश की भी बात कही। 
बता दें कि सहरसा में एम्स निर्माण के लिए एम्स निर्माण संघर्ष समिति के बैनर तले 24 दिसम्बर से आमरण अनशन की शुरुआत हुई। वह अनशन सात दिवसीय था, जिसका नेतृत्व एम्स निर्माण समिति के अध्यक्ष अधिवक्ता विनोद झा और लोजद के प्रदेश महासचिव प्रवीण आनंद ने किया। फिर 31 दिसंबर से दूसरे फेज के अनशन की शुरुआत हुई, जिसका नेतृत्व पीपुल्स पॉवर के बैनर तले पूर्व बीडीओ गौतम कृष्ण ने किया।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages