मधेपुरा: जिले के 19 गांवों को बनाया जाएगा जैविक ग्राम - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Friday, 4 January 2019

मधेपुरा: जिले के 19 गांवों को बनाया जाएगा जैविक ग्राम

कोशी लाइव:AKKY

ऑर्गेनिक खेती को लेकर किसानों का बनाया जाएगा ग्रुप -ग्रुप में शामिल सभी किसानों का होगा पंजीकरण
-पंजीकृत किसानों को मिलेगा ऑर्गेनिक खेती करने का लाइसेंस
जागरण संवाददाता,मधेपुरा: रासायनिक खाद के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान को देखते हुए अब जैविक ग्राम बनाने की पहल प्रशासनिक स्तर पर की गई है। प्रारंभिक चरण में जिले के तीन प्रखंड के 19 गांव को जैविक ग्राम बनाने के लिए चयनित किया गया है। चयनित किए गांव में रासायनिक खाद का इस्तेमाल न हो इसकी पहल की जाएगी। वहां के महिला किसानों को इसके लिए प्रशिक्षित भी किया जाएगा। किसानों की सहमति के बाद इन गांव को पूरी तरह से रासायनिक खाद के इस्तेमाल से मुक्त करते हुए जैविक ग्राम बनाया जाएगा। जैविक ग्राम बनाने के लिए किसानों को प्रशिक्षित करने की जिम्मेदारी जीविका को दी गई है।
----------------------
किसानों का बनाया जाएगा लोकल ग्रुप : जैविक खेती को लेकर जिले के तीन प्रखंड के 19 गांव का चयन किया गया है। चयनित प्रखंडों में कुमारखंड,मुरलीगंज और ¨सहेश्वर शामिल है। जैविक ग्राम बनाने की पहल कुमारखंड के इसरायण खुर्द गांव से शुरू हो रही है। यहां के महिला किसानों को चयनित कर अलग अलग ग्रुप बनाया जाएगा। एक ग्रुप में 10 से लेकर 30 किसान तक शामिल होंगे। एक गांव में एक से अधिक ग्रुप भी बनाए जाने का प्रावधान बनाया गया है। लोकल स्तर पर किसानों का ग्रुप बन जाने के बाद स्थानीय स्तर पर किसानों को ऑर्गेनिक खेती के बारे में प्रशिक्षित किया जाएगा। वहीं रासायनिक खाद के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।
-------------------
ऑर्गेनिक खेती करने वालों को मिलेगा लाइसेंस : जैविक या ऑर्गेनिक खेती के लिए चयनित गांव में किसानों का ग्रुप तैयार होने के बाद सभी महिला किसानों का पंजीकरण कराया जाएगा। पंजीकृत किसानों को राज्य सरकार की ओर से ऑर्गेनिक खेती के लिए लाइसेंस दिया जाएगा। वहीं लाइसेंसधारी किसान ऑर्गेनिक खेती कर अपने फसल सब्जी को बाजार में प्रमाणिक तरीके से बेच पाएंगे। किसानों को जैविक खाद के रूप में इस्तेमाल होने वाले सामग्री आदि के बारे जीविका की ओर से प्रशिक्षित किया जाएगा।
-------------------------
ऑर्गेनिक खेती को लेकर इन गांव का हुआ चयन : तीन प्रखंड के 19 गांव का चयन जैविक या ऑर्गेनिक खेती के लिए किया गया है। इसमें कुमारखंड प्रखंड के बेलसाढ़,लक्ष्मीपुर भगवती वन,लक्ष्मीपुर भगवती टू,इसरायण खुर्द,लखीमपुर भगवती वन व लखीमपुर भगवती टू शामिल है। मुरलीगंज प्रखंड के हरिपुरकला,पकिलपार,जोरगामा,अमरी दरहरा,गुदर चकला,रानीपट्टी ¨सग्यान को चयनित किया गया है। वहीं ¨सहेश्वर प्रखंड से पटोरी,रामपुर वन,गहुमनी, रामपुर टू, रूपौली शामिल है।
---------------------------------
जैविक ग्राम बनाने की पहल शुरू की गई है। इसके लिए चयनित गांव से इच्छुक महिला किसानों का एक ग्रुप तैयार किया जाएगा। ग्रुप में शामिल किसानों का पंजीकरण कराकर उसे ऑर्गेनिक खेती करने का लाइसेंस राज्य सरकार से दिलाया जाएगा। खेती में किसानों को प्रशिक्षित करने के साथ जीविका की ओर से प्रोत्साहित किया जाएगा। इसकी शुरुआत कुमारखंड के इसरायण खुर्द गांव से हो रही है।
अजय कुमार
जिला परियोजना प्रबंधक
जीविका

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages