बिहार: फर्जी शिक्षकों पर बड़ी कार्रवाई, 174 शिक्षकों को किया गया बर्खास्त - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

Madhepura,Saharsa,Supaul Local Web News Media

Breaking

Translate

Saturday, 1 December 2018

बिहार: फर्जी शिक्षकों पर बड़ी कार्रवाई, 174 शिक्षकों को किया गया बर्खास्त

कोशी लाइव:AKKY

पूर्णियाः प्रदेश के कुल 174 शिक्षकों पर जिले के शिक्षा महकमे का हंटर चला है. फर्जी शिक्षकों पर न्यायालय के सख्त आदेश व विजिलेंस के चौतरफा दबाव के बाद आखिरकार शिक्षा विभाग की नींद खुल गई.


दरअसल मामला शिक्षक नियोजन में फर्जी तरीके से नियोजन का है. जिसके तूल पकड़ते ही न्यायालय के आदेश पर विजिलेंस द्वारा कराई जा रही फर्जी शिक्षकों की जांच व इसके सत्यापन पर कार्रवाई से जुड़ा है.
 

174 शिक्षकों पर शिक्षा महकमे का हंटर
जिले के शिक्षा विभाग ने इस पूरे मामले पर जब विभागीय जांच शुरू की तो जांच के दौरान बनमनखी प्रखंड से 121 और रुपौली प्रखंड से 53 से अधिक शिक्षक फर्जी पाए गए. जिसके बाद जिले के शिक्षा महकमे ने ऐसे शिक्षकों पर बर्खास्तगी का हंटर चलाया है. हालांकि जांच की प्रक्रिया अभी भी जारी है. पूरे जिले में सैंकड़ों ऐसे शिक्षक हैं जिनकी स्थिति संदेहास्पद है. लिहाजा सभी महत्वपूर्ण पहलुओं की जांच बेहद बारीकी से की जा रही है.


एक ही शिक्षक जो जिले में था नियुक्त
नियोजित शिक्षकों के नियोजन से जुड़े फर्जीवाड़े की सारी हदें पार होती दिख रही हैं. दरअसल जिले के शिक्षा महकमे ने जब कई शिक्षकों के कागजातों की कुंडलिया निकालनी शुरू की तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए. हद तो तब हुई जब एक ही टीईटी प्रमाणपत्र पर दो शिक्षक कार्यरत थे. इतना ही नहीं कुछ टीचर्स टीईटी के प्रमाण पत्र पर पूर्णिया जिले में तो कार्यरत हैं ही राज्य के अन्य जिले में भी कार्यरत है.



75 फर्जी शिक्षक पहले ही कर चुके हैं रिजाइन
जिला शिक्षा पदाधिकारी मिथिलेश प्रसाद की मानें तो इन सब में ऐसे शिक्षकों को न्यायालय की ओर से राहत दी गई है जिन्होंने नैतिकता के आधार पर खुद से रिजाइन किया है. लिहाजा इसके तहत जिले में 75 शिक्षक जो संदेहास्पद यानी फर्जी थें, वे त्यागपत्र देकर चले गए.

Follow ME

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Total Pageviews

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

Pages