अररिया:अनशन स्थल पर वार्ता के दौरान यूनियन के महामंत्री की हार्ट अटैक से मौत - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

Madhepura,Saharsa,Supaul Local Web News Media

Breaking

Translate

Friday, 26 October 2018

अररिया:अनशन स्थल पर वार्ता के दौरान यूनियन के महामंत्री की हार्ट अटैक से मौत

कोशी लाइव:

 फारबिसगंज(अररिया)


अररिया:आमरण-अनशन पर बैठे कर्मियों की ओर से मांगों को लेकर अधिकारियों से वार्ता के दौरान बिहार लोकल बॉडिज इम्प्लाइज फेडरेशन के प्रदेश महामंत्री व नप के पूर्व प्रधान सहायक सुरेन्द्र नाथ मिश्रा की गुरुवार को हर्ट अटैक से मौत हो गई। नगर परिषद के कर्मियों ने मौत के लिए अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया है। दरअसल, मांगों को लेकर 12 दिनों से आंदोलनरत फारबिसगंज नगर परिषद के कर्मी पिछले तीन दिनों से आमरण अनशन पर भी हैं।
अनशन समाप्त कराने आए सीओ अभयकांत मिश्रा, कार्यपालक पदाधिकारी सुमन कुमार और मुख्य पार्षद सुनीता जैन के साथ सुरेंद्र मिश्रा षष्टम वेतन के भुगतान पर बात कर रहे थे। सीओ का कहना था कि वेेतन विपत्र का सत्यापण नहीं हुआ है लिहाजा षष्टम वेतन मिलने में थोड़ी परेशानी है। जबकि मिश्रा मुजफ्फरपुर नगर निगम का हवाला देकर वगैर सत्यापन का भुगतान करने की मांग कर रहे थे। सुरेंद्र मिश्र ने मुजफ्फरपुर में मिले वेतन मामले में संघ के एक पदाधिकारी से सीओ की बात करा ही रहे थे कि वह लड़खड़ा गए। उन्हें तुरंत चिकित्सक के पास ले जाया गया जहां मृत घोषित कर दिया गया। डॉ. अजय सिंह बताते हैं कि मैसिव हर्ट अटैक से उनकी मौत हो गई।
अधिकारी व मुख्य पार्षद ने नहीं ली सुध 

घटना के बाद संघ के सचिव सूरज कुमार सोनू ने आरोप लगाया कि सुरेंद्र मिश्रा की देख रेख में ही नप कर्मी आन्दोलन चला रहे थे। उन्होंने कहा कि मौत के लिए नप प्रशासन जिम्मेदार है। सोनू ने कहा कि आमरण-अनशन स्थल पर बैठे किसी अधिकारियों या मुख्य पार्षद में इतनी संवेदना नहीं कि सुरेंद्र मिश्रा की खबर ले। किसी ने उठ कर सुध नहीं ली। 

नप परिसर में लगे सुरेन्द्र नाथ मिश्रा की प्रतिमा:-

नप कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अमरनाथ झा और सचिव सुरज कुमार सोनू ने कहा कि हमारे नेता सुरेन्द्र नाथ मिश्रा का जीवन फारबिसगंज नगर परिषद से शुरू हुआ था और नप परिसर में ही अंत हो गया। इन नेताओ ने कहा कि नगर परिषद परिसर में स्व. सुरेन्द्र नाथ मिश्रा की आदमकद प्रतिमा लगे। शायद नप कर्मियों के लिए यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। सोनु ने कहा कि इस संबंध में नप प्रशासन और पार्षदों से बात कर रायसूमारी बनायी जाएगी। 

आवास पर शुभचिंतकों की जुटी भीड़

सुरेंद्र मिश्रा की मौत की खबर पर उनके आवास पर शुभचिंतकों की भीड़ जुटने लगी। मौत को लेकर नप के सभी कर्मियों में नप प्रशासन के खिलाफ गहरा आक्रोश है। सुरेंद्र मिश्रा की मौत पर नप कर्मियों भी रोते देखे गए।

Follow ME

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Google+ Followers

Total Pageviews

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

Pages