सहरसा: शौचालय से स्वास्थ्य और प्रतिष्ठा दोनों की होती है रक्षा : डीएम - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

Madhepura,Saharsa,Supaul Local Web News Media

Breaking

Translate

Tuesday, 23 October 2018

सहरसा: शौचालय से स्वास्थ्य और प्रतिष्ठा दोनों की होती है रक्षा : डीएम

बंशराज @कोशी लाइव:

सहरसा। मंगलवार को चैनपुर पंचायत के पंचायत भवन प्रांगण में आयोजित स्वच्छता सभा में डीएम शैलजा शर्मा ने लोगों को शौचालय निर्माण के प्रेरित करते हुए कहा कि इससे स्वास्थ्य व प्रतिष्ठा दोनों की रक्षा होती है। डीएम ने सभा में मौजूद जीवीका दीदी व ग्रामीण महिलाओं के बीच पहुंचकर निर्धारित समय सीमा के अंदर शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण कराने का संकल्प दिलाया। उन्होंने लोगों को हर घर में शौचालय नहीं रहने से होने वाली परेशानी पर चर्चा करते हुए कहा कि शौचालय स्वच्छता के लिए आवश्यक है। सभा को संबोधित करते हुए डीडीसी राजेश कुमार ने कहा कि एक शौचालय बनाने से घर के इज्जत के साथ-साथ बीमारी से लोग मुक्त रहते हैं। खुले में शौच करना और लाखों बीमारी को आमंत्रित करना दोनों बराबर है। शौचालय निर्माण कराने पर सरकार द्वारा भी 12 हजार रूपये प्रोत्साहन राशि दी जाती है। डीडीसी ने मौके पर मौजूद स्वच्छता कर्मी, किसान सलाहकार, पंचायत रोजगार सेवक, विकास मित्र, टोला सेवक व जीविका दीदी को विभिन्न 16 वाडों का प्रभारी नियुक्त कर 10 नवंबर तक पंचायत को ओडीएफ करने का लक्ष्य दिया। मुखिया सोनी देवी के अध्यक्षता में आयोजित सभा को एडीएम पुरूषोत्तम पासवान, बीडीओ अमरेंद्र कुमार अमर, जीपीएस राकेश रंजन, जीविका बीपीएम विनोद कुमार, स्वच्छता कोऑर्डिनेटर मनीषा कुमारी सहित अन्य मौजूद थी।


लापरवाह लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी पर करें कार्रवाई : डीएम


सहरसा। मंगलवार को जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा की अध्यक्षता में समाहरणालय सभा कक्ष में लोक शिकायत निवारण से संबंधित समीक्षा बैठक हुई। बैठक को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी ने कहा कि बिहार लोक शिकायत निवारण अधिनियम सरकार की प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर है। इसकी उच्चस्तरीय मॉनिट¨रग की जाती है। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति लोक शिकायत निवारण कार्यालय में शिकायत दर्ज करता है और वहां बार-बार निर्धारित तिथि को संबंधित लोक प्राधिकार उपस्थित नहीं रहते हैं तो इससे व्यक्ति के मन में निराशा और क्षोभ उत्पन्न होता है और सरकार की छवि खराब होती है। डीएम ने कहा कि सभी लोक प्राधिकार वाद की निर्धारित तिथि से दो-तीन दिन पूर्व वाद की समीक्षा कर लें, तथा निर्धारित तिथि को प्रतिवेदन के साथ संबंधित लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के यहां उपस्थित रहें। यदि किसी कारणवश वे मुख्यालय से बाहर रहते हैं तो लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को पूर्व में इसकी लिखित सूचना दे दें। डीएम ने कहा कि जिस वाद में 60 दिन की समय-सीमा बीत जाती है, उसमें संबंधित लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी कार्रवाई करें। उन्होंने बुधवार को होनेवाले जिला समन्वय समिति की बैठक में 60 दिन की अवधि बीत जाने वाले वादों की सूची तलब किया। तथा तीन-चार दिन के अंदर उसका निष्पादन कराने का निदेश दिया।जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने आज की बैठक का उदेश्य बताते हुए कहा कि सभी लोक प्राधिकार समय पर लोक शिकायत निवारण कार्यालय में वाद की सुनवाई के समय उपस्थित हों ताकि एक पक्षीय निर्णय के लिए लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को बाध्य नहीं होना पड़े। मौके पर अपर समाहर्ता धीरेन्द्र कुमार झा, उप विकास आयुक्त राजेश कुमार ¨सह ,अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, सहरसा तथा सिमरीबख्तियारपुर, निदेशक डीआरडीए एवं अन्य लोक प्राधिकार गण मौजूद रहे।

Follow ME

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Google+ Followers

Total Pageviews

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

Pages