सहरसा :इंजीनियरिंग कॉलेज में घुसकर पीटने से भड़के स्टूडेंट्स ने कलेक्ट्रेट के पास किया सड़क जाम - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Thursday, 27 September 2018

सहरसा :इंजीनियरिंग कॉलेज में घुसकर पीटने से भड़के स्टूडेंट्स ने कलेक्ट्रेट के पास किया सड़क जाम

अक्की@कोशी लाइव:

इंजीनियरिंग कॉलेज परिसर में गुरुवार दोपहर में बाहरी लोगों ने घुसकर छात्रों की पिटाई कर दी। मारपीट में चार छात्रों को चोटें आई हैं। इसकी सूचना देने के बावजूद पुलिस के नहीं पहुंचने पर इंजीनियरिंग के छात्रों का आक्रोश भड़क उठा। आक्रोशित छात्रों ने कलेक्ट्रेट के पास सड़क जाम कर पुलिस प्रशासन के विरोध में नारे लगाए।
छात्रों का कहना था कि इंजीनियरिंग की छात्राओं से छेड़खानी का विरोध करने पर बाहरी युवकों द्वारा मारपीट की जाती है। लेकिन पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। मौके पर पहुंचे सदर एसडीओ शंभूनाथ झा, एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने अविलंब कार्रवाई का आश्वासन दिया।
 श्री झा ने बताया कि कॉलेज के सीसीटीवी कैमरे का फुटेज भी खंगाला जा रहा है। छात्रों ने आरोपितों पर 24 घंटे में कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।
घटना के बारे में छात्रों ने बताया कि दोपहर बाद कॉलेज के पास जमा कुछ युवक कॉलेज के छात्रों के साथ बदतमीजी करने लगे। जब विरोध किया तो मारपीट शुरू कर दी। जख्मी छात्र रुपेश और गौरव ने बताया कि बाहर से आए युवकों ने कट्टा तान गोली मारने की धमकी भी दी। छात्र किसी तरह जान बचाकर कॉलेज कैंपस में पहुंचे। इस बीच 10-12 बाहरी युवक कैंपस में घुस गए और कई छात्रों से मारपीट की।
इंजीनियरिंग कॉलेज में घुसकर बाहरी युवकों द्वारा छात्रों की पिटाई किए जाने का मामला गुरुवार को तूल पकड़ लिया। करीब दो घंटे तक कॉलेज परिसर रणक्षेत्र बना रहा।
छात्रों ने कलेक्ट्रेट के सामने सड़क जाम कर पुलिस की कार्यशैली पर ऊंगली उठाई। छात्रों का कहना था कि इंजीनियरिंग कॉलेज की छात्राओं के साथ बाहरी युवक छेड़खानी करते हैं। विरोध करने पर पिटाई करते हैं। वे लोग बाहर से लाठी और देसी कट्टा के साथ परिसर में घुसकर धमकाते हैं। विरोध करने पर पिटाई से लेकर जान मारने तक की भी धमकी देते हैं। कई बार कॉलेज व पुलिस प्रशासन से शिकायत की गई। लेकिन, आज तक किसी स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।
छेड़खानी की घटना के बाद शुरू हुई गश्ती बंद: इंजीनियरिंग कॉलेज में 14 मई को एक छात्रा के साथ छेड़खानी की घटना हो चुकी है। जिसके बाद छात्रों ने काफी हंगामा किया था। एसपी राकेश कुमार के निर्देश पर घटना के बाद कॉलेज के समय में पैंथर जवानों द्वारा गश्ती की जा रही थी। लेकिन पिछले कुछ दिनों से गश्ती लगभग बंद हो चुकी है। छात्रों के गुस्सा का यह भी एक बड़ा कारण था।
सूचना के दो घंटे बाद पहुंचे पैंथर के जवान: छात्रों का आरोप था कि सूचना देने के बावजूद पैंथर के जवान दो घंटे बाद पहुंचे। जिससे छात्रों का गुस्सा और भड़का। छात्रों का कहना था कि पुलिस की टीम समय पर पहुंचती तो इस प्रकार की घटना नहीं होती। कॉलेज पहुंचे पैंथर जवानों का छात्रों का घेराव करते कहा कि पुलिस की निष्क्रियता के कारण ही कॉलेज परिसर में घना हुई है।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages