सुपौल:अस्पताल बंद, रातभर प्रसव पीड़ा से कराहती महिला ने बरामदे पर दिया बच्चे को जन्म - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Saturday, 22 September 2018

सुपौल:अस्पताल बंद, रातभर प्रसव पीड़ा से कराहती महिला ने बरामदे पर दिया बच्चे को जन्म

@स्टालिन_अमर_अक्की #_कोशी क्षेत्रिये समाचार

रात में प्रसव वेदना से गुजर रही महिला जब अहले सुबह अस्पताल पहुंची तो वहां ताला लटका हुआ था, वहां कोई भी कर्मी मौजूद नहीं था। आखिरकार महिला ने बरामदे पर ही बच्चे को जन्म दिया।
मामला सुपौल जिले के बलुआ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का है। बलुआ पंचायत के मटियारी गांव वार्ड 12 के रंजीत सादा की पत्नी चन्द्रकला देवी को शुक्रवार रात से ही प्रसव पीड़ा होने लगी। शनिवार अहले सुबह लगभग सवा पांच बजे चन्द्रकला और उसकी मां लुखिया देवी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचीं तो सभी कमरों में ताला लटका हुआ था। काफी खोजबीन करने पर भी वहां न तो एएनएम मिली न ही कोई अन्य स्वास्थकर्मी। लगभग 10 मिनट बाद चन्द्रकला ने पीएचसी के बरामदे पर ही एक बच्ची को जन्म दिया।
इसके बाद समस्या बच्ची के नाभी काटने को लेकर हुई। कोई उपाय नहीं देख स्थानीय लोगों ने उसे एक ऑटो पर बैठाकर वीरपुर अनुमंडलीय अस्पताल भेज दिया। उधर, बरामदे पर प्रसव होने की सूचना जब एएनएम सुनीता देवी को हुई तो वह भी दौड़ती वहां पहुंची। एएनएम का कहना था कि वह यहां अकेली ही नियुक्ति है। 24 घंटे ड्यूटी कैसे संभव है?
प्रसूता के आने की जानकारी किसी ने नहीं दी। जब जानकारी हुई तो वह पहुंची और रास्ते से ही प्रसूता और नवजात को पीएचसी लाकर समुचित इलाज किया। एएनएम के अनुसार प्रभारी डॉ. हयात अनवर मुहर्रम को लेकर अवकाश पर हैं। 
 
इस संबंध में सुपौल जिले के सिविल सर्जन डॉ. घनश्याम झा ने बताया कि छातापुर पीएचसी प्रभारी को मामले की जांच करने को कहा गया। वैसे सूचना मिली थी कहीं और प्रसव होने के बाद जज्जा-बच्चा को लाया गया था। बावजूद जो दोषी पाये जाएंगे उनपर कार्रवाई होगी।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages