सहरसा।पामा की पंसस गायब, अपहरण की रिपोर्ट दर्ज। - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Saturday, 3 February 2018

सहरसा।पामा की पंसस गायब, अपहरण की रिपोर्ट दर्ज।

03feb,2018                @कोशी क्षेत्रिये समाचार

पतरघट प्रखंड के पामा गांव की पंसस पिछले एक माह से गायब हैं। पंसस जूली प्रताप के पति जदयू नेता राजीव रंजन प्रताप ने इस संबंध में पांच लोगों पर अपहरण का आरोप लगाया है। दिए गए आवेदन में उन्होंने पंसस की हत्या की आशंका जताई है।
पति ने पतरघट ओपी अध्यक्ष को आवेदन देकर रिपोर्ट दर्ज कराया है। जदयू नेता राजीव रंजन प्रताप पिता चन्द्रकिशोर मेहता ने अपने आवेदन में कहा है कि उनकी पत्नी 31 दिसम्बर 2017 को उनके पामा घर से पटना के लिए निकली थी। लेकिन अभी तक पटना नहीं पहुंची है। घर पर उनकी पत्नी के मोबाइल पर प्रेम कुमार, मृत्युजंय कुमार बुचकून टोला चण्डी स्थान सोनबर्षा , मनोहर कुमार सिंह उर्फ नन्हे कुमार , बिटू कुमार , बंटी कुमार चोसाईर ओपी भर्राही मधेपुरा का मोबाइल से कॉल आया था। उन्होंने कहा है कि उनकी पत्नी पटना में एएनएम की पढ़ाई कर रही थी।
पटना भागवतनगर कुम्हार में डेरा लेकर रहती थी। उनके साथ उनके अलावे दो सहेली ममता कुमारी एवं साधना कुमारी एक ही कमरा में रहती थी। दोनों सहेली भी गायब हैं। सभी नामित ने अपहरण कर लिया है। सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने कहा कि रिपोर्ट दर्ज कर छानबीन की जा रही है।
एक वोट से हारी थी प्रमुख का चुनाव
वर्ष 2016 के पंचायत चुनाव में पहली बार में पामा पंचायत से जुली प्रताप ने समिति सदस्य का चुनाव जीता था। वह प्रमुख पद की प्रबल दाबेदार थी। प्रमुख पद के गहमागहमी चुनाव में प्रखंड के कुल 15 पंचायत समिति सदस्यों में 7 मत जुलीप्रताप को मिले और 8 मत वर्तमान प्रमुख उषा देवी को मिला था। तेजतर्रार पंसस जूली पंचायत समिति की बैठक में समस्याओं के समाधान के लिए बुलंदी से आवाज उठाती रही है।
अपहरण के बाद चर्चाओं का शुरु हुआ दौर: पामा पंचायत की पंसस जुलीप्रताप के अपहृत होने की मामला सामने आने से कई तरह की चर्चा है। जितनी मुंह उतनी कयास लगाये जा रहे है। जुलीप्रताप की शादी लगभग 9 वर्ष पूर्व पामा निवासी जदयू नेता राजीव रंजन प्रताप से हुई थी। जिसमें एक लगभग 6 वर्ष का एक लड़का रीतु कुमार हैं।
शिक्षित और शालीन जुलीप्रताप को उनके ससुराल वालों ने विगत पंचायत चुनाव में पंसस पद से चुनाव मैदान में उतारा था। लोगों द्वारा उनपर विश्वास जताया गया और पंचायत के मतदाताओं ने जीत दिलाई। प्रमुख पद के चुनाव में पति सहित परिजनों ने पूरा प्रया किया। मात्र एक मत से मात खा गई थी। लेकिन अपनी कार्यक्षमता व सालीनता के बदौलत चर्चा में रही।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages