मधेपुरा।प्रशासनिक सख्ती का दिखा असर, सात दिन में 51 परीक्षार्थी हुए निष्कासित - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Wednesday, 14 February 2018

मधेपुरा।प्रशासनिक सख्ती का दिखा असर, सात दिन में 51 परीक्षार्थी हुए निष्कासित

14feb,2018 @कोशी क्षेत्रिये समाचार

मधेपुरा। इस बार बिहार बोर्ड द्वारा आयोजित इंटर की परीक्षा में प्रशासनिक हनक ने नकलचियों के मनसूबों पर पानी फेरने का काम किया। छह फरवरी से आयोजित इंटरमीडिएट की परीक्षा में प्रशासन के सख्ती के बावजूद नकल करने के आरोप में मंगलवार तक कुल 51 परीक्षार्थियों को निष्कासित किया जा चुका है। मालूम हो कि पिछले वर्ष की तरह इस बार भी परीक्षा में कदाचार रोकने के लिए कई बड़े बदलाव किए गए है। लेकिन तमाम प्रशासनिक इंतजाम रहने के बावजूद भी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र के अंदर चिट-पूर्जा ले जाने में सफल हो रहे हैं। कदाचार मुक्त परीक्षा संपन्न कराने को लेकर सभी 40 परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है। यद्यपि पूर्व के वर्षो के संपन्न हुए परीक्षा के मुकाबले इस बार काफी सख्ती बरती गई है। शिक्षा विभाग का कहना है कि परीक्षा केंद्र के बाहर व अंदर पूरी सख्ती बरती जा रही है। जिसके कारण कदाचार के आरोप में कई छात्र निष्कासित हो चुके हैं।
---------------
बड़ी संख्या में छात्र रहे अनुपस्थित : कदाचार मुक्त परीक्षा के डर से इस बार बड़ी संख्या में छात्र परीक्षा से अनुपस्थित रहे। मंगलवार तक 3050 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे। इस दौरान 51 परीक्षार्थियों को कदाचार के आरोप में निष्काषित किया गया। वहीं नौ हजार एक सौ तिरासी छात्र मंगलवार तक परीक्षा में शामिल हुए। इतनी बड़ी संख्या में परीक्षा से छात्रों का अनुपस्थित होने के पीछे कदाचार नहीं होना इस प्रमुख कारण हो सकता है।
----------------
अविभावकों ने हंगामा भी किया : प्रशासनिक हनक के बीच शांतिपूर्ण चल रहे इंटरमीडिएट की परीक्षा के दौरान उदाकिशुनगंज में अभिभावकों ने बवाल भी काटा। अभिभावक परीक्षा में सख्ती से नाराज हो कर प्रदर्शन व रोड जाम भी किया था। जिसके बाद प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए 17 अभिभावकों को गिरफ्तार भी किया गया। वहीं एक वीक्षक को भी उदाकिशुगंज में बर्खास्त किया गया।
-----------
अभिभावक भी परीक्षा केंद्र दूर ही नजर आए : हालांकि परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र पर धारा 144 लागू रहने से इस बार अभिभावक भी दूर नजर आते हैं। परीक्षा केंद्र के चारों ओर 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लगा हुआ है। पुख्ता व्यवस्था रहने के बावजूद भी 10 फरवरी को जिला मुख्यालय के केबी वीमेंस कॉलेज परीक्षा केंद्र से छह व शुक्रवार को प्रोजेक्ट कन्या हाई स्कूल ¨सहेश्वर से आठ परीक्षार्थियों को एक साथ निष्कासित किए जाने से कदाचार मुक्त परीक्षा के दावे का पोल खुलता नजर आ रहा है। आखिर इतने सख्ती के बावजूद कैसे परीक्षार्थी चिट-पुर्जा लेकर परीक्षा केंद्र के अंदर पहुंचने में सफल हो जाते हैं। इस पर सवाल उठना लाजिमी है।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages